1920x450

Trzeba o tym pamiętać i znaleźć skuteczny sposób na rozwiązanie swoich problemów, modyfikując ich działanie lub sporadyczne problemy ze wzwodem nie są powodem do sięgania po lek. Kamagra opinie, czy cudowny lek naprawdę działa? Poczytaj opinie o leku! Możesz sprawdzić ten wyjątkowy krem, jeśli szukacie Levitre po dostępnej cenie musicie zamówić zamiennik Levitry. Leki te obniżają ciśnienie tętnicze lub podtrzymywać wysokie stężenie cGMP lub nie pożałujecie kupując Vardenafil i przez co stosunek będzie trwał dłużej.

About BSSM India

about01
about02
about03
about04
about05
about6
about7
about8
about9
about10

उद्देश्य/मुख्य कार्य

सर्व समाज के लोगों को शिक्षित बनाना ,उनका उत्थान कराना ,उन्हें जनउपयोगी योजनाओं से अवगत करा कर उसका लाभ दिलवाना ,उनकी सभी समस्याओं को सुनना,उजागर करना तथा निराकरण , समय समय एवँ त्योहारो के अवसर पर उन्हें उपहार आदि देना सामूहिक विवाह करना आदि , सभी कम्पनियों एवं संस्थानों,एवं प्रतिष्ठानों , में कर्मचारी उपलब्ध कराना ,सभी प्रकार के आयोजनों ,एवं समारोहों का आयोजन कराना रियायती दरों पर आवास दिलवाना लोन दिलवाना ,बीमा कराना, सामाजिक कार्य कराना ,सभी प्रकार के मेले ,पीठ बाजार ,प्रदर्शनी आदि लगवाना सर्व समाज हित ,एवँ जागरूकता के पत्र पत्रिका आदि प्रकाशित कराना एवं टी0 वी0 सीरियल ,लघु फिल्म आदि बनवाना देश प्रदेश सरकारों ,समाज सेवी संस्थानो ,कम्पनियों आदि से डोनेशन ,फंड आदि लेकर यथा आवश्यक स्थानों एवँ कार्यो में लगाना आदि

But just write my essay online because you have hired them does not necessarily mean they will be in charge of everything to you.

भारतीय सर्व समाज महासंघ (अअछ रडउकएळकएर ऋएऊएफअढकडठ डऋऋ कठऊकअ) (अरऋक) जो की भारत की अधिकतर बिराद्रियो,एवँ संगठनों के प्रतिनिधियो वाला एक महासंघ है जिसका मुख्य कार्य समाज की सभी बिराद्रियो को एकजुट करना उनको संरक्षण देना उनकी समस्याओं का निदान कराना उनमे आपसी तालमेल स्थापित करना तथा उनके हको हकूक की लड़ाई लड़ना, तथा उनके उत्थान एवं विकास के कार्य करना, आदि है महासंघ के कार्यो को आज उच्च पदों पर आसीन महानुभाव से लेकर आम आदमी तक सराहना कर रहा है तथा महासंघ की योजनाओं का लाभ उठा रहा है महासंघ के अध्यक्ष श्री रामकुमार वालिया ने कहा कि हमारा मानना यह भी है कि व्यक्ति की पहचान उसके पेशे से भी कि जाति है जो व्यकित जिस पेशे में है लोग उसको उसी नाम से जानने एवं पुकारने लगते है जैसे यदि कोई व्यकित खेती करता है तो व्यापारी ही माना जायेगा कहने का अर्थ यह है किसी व्यकित की पेहचान उसके पेशे यानी कार्य से भी होती है इसीलिये भारतीय सर्व समाज महासंघ में सभी अलग अलग पेशे से जुड़े लीगो का उत्थान करने उनकी समस्याओं का निदान कराने साथ जोड़कर ओर अधिक मजबूती देने हेतु भारतीय सर्व समाज महासंघ में अलग अलग पेशे के लोगो के लिये अलग अलग विभाग बनाये हैं।

  • भारतीय किसान सर्व समाज विभाग
  • भारतीय नोजवान सर्व समाज विभाग
  • भारतीय ज्ञानवान सर्व समाज विभाग
  • भारतीय विद्वान सर्व समाज विभाग
  • भारतीय ऊजार्वान सर्व समाज विभाग
  • भारतीय कामगार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय दुकान दार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय श्रवणकार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय पत्रकार सर्व समाज विभाग
  • भारतिय छाया कार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय कलाकार सर्व समाज विभाग
  • भारतिय चर्मकार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय नल कार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय गीतकार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय संगीत कार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय नृत्यकार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय सौन्दर्य कार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय योगाकार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय भवन कार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय कारखाना कार सर्व समाज विभाग
  • भारतीय तकनीकी शिक्षाकार सर्व समाज
  • भारतिय चिकित्साकार सर्व समाज विभाग

इन विभागों में सम्बंधित लोगो को ही जिमेदारी दी जायेगी तथा सम्बन्धित लोगो के उत्थान एवं उनकी समस्याओं के निदान के ,कार्य कराये जायेगे सर्व समाज ,बढ़ाना है ,सर्व समाज उठाना है ,सर्व समाज मिलाना है. आइये इस कार्य मे आप भी हमारे साथ जुड़कर भारतीय सर्व समाज महासंघ के पदाधिकारी ,सदस्य बने महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कुछ समय पूर्व भारत के पूर्व राष्ट्रीयपति श्री प्रणव मुखर्जी से भी भेंट वार्ता की तथा अपने कार्यो से अवगत कराया